Uncategorized

टाइगर ऑन एइगर – स्विस पीक के ऊपर सबसे बड़ी कलाकृति

February 3: लाइट आर्टिस्ट गेरी हॉफस्टेटर ने ग्रिंडेलवाल्ड में एइगर नॉर्थ फेस को रोशन किया और शीतकालीन ओलंपिक खेलों की पूर्व संध्या पर विविध संस्कृतियों और पर्यावरण के लिए स्विस प्रतिबद्धता को दोहराया।

3 फरवरी, 2022 से एशिया में बाघ वर्ष की शुरुआत हो रही है। बाघ संयोग से कई राष्ट्रों का गौरव है और विलुप्त होने के कगार पर है। जबकि कई लोग चीनी नव वर्ष मना सकते हैं, ऐसे में आइए टाइगर को भी श्रद्धांजलि दें जो इस ग्रह के पारिस्थितिक संतुलन को बनाए रखने में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

स्विट्ज़रलैंड उन लोगों को बधाई देता है जो नए साल का जश्न मनाने के साथ ही हमें बाघों और पर्यावरण की रक्षा करने की याद दिलाते हैं। स्विस लाइट आर्टिस्ट गेरी हॉफस्टेटर द्वारा ईगर नॉर्थ फेस पर 5.3 किमी लंबे और 2 किमी ऊंचे बाघ का प्रक्षेपण एक अद्वित्तीय घटना है। यह कलाकार और सामान्य तौर पर स्विस लोगों के विविध संस्कृतियों के साथ-साथ पर्यावरण के प्रति हमारे गहरे सम्मान को दर्शाता है।

गेरी हॉफस्टेटर ने इस तरह से दुनिया की सबसे बड़ी कलाकृति तैयार कर दी, जिसका आकार 1,060 फुटबॉल मैदानों से भी अधिक है।

उनके दिमाग में यह विचार तब आया जब उन्हें एइगर में एक बाघ की आकृति नजर आई, जिसे उन्हें नाम दिया टाइगर/एइगर। इसके साथ वह स्विस पहाड़ों और स्विट्जरलैंड की अंतरराष्ट्रीय एकजुटता के प्रतीक बनना चाहते हैं। उन्होंने विशेष रूप से शीतकालीन ओलंपिक की शुरुआत को टाइगर ऑन द एइगर के साथ जोड़ा, जैसा कि उन्होंने महसूस किया, यह कलाकृति सभी स्विस एथलीटों और निश्चित रूप से अन्य सभी एथलीटों के लिए भी, जीत हासिल करने के लिए बाघ की भांति लड़ने की प्रेरणा देगी। शीतकालीन ओलंपिक 4 फरवरी से शुरू होंगे, जो वैश्विक ध्यान आकर्षित करेगा, और शायद विश्व स्तर पर पर्यावरण जागरूकता पैदा करने का सबसे अच्छा क्षण भी होगा।

गेरी हॉफस्टेटर और उनकी टीम को सही प्रोजेक्शन देने के लिए एक वर्ष से अधिक समय की आवश्यकता थी। मौसम, हवा, बादल, चंद्रमा का आकार, चंद्रमा की स्थिति, बर्फ, ठंड और सितारों को 15 मिनट की समय सीमा में पूरी तरह फिट होना था। गेरी की टीम के जाने-माने फोटोग्राफर, फ्रैंक श्वार्जबैक, सही वक्त पर बाघ को फोटोग्राफिक रूप से पकड़ने में सक्षम रहे।

इस घटना को ग्रिंडेलवाल्ड पर्यटन, ग्रिंडेलवाल्ड नगर पालिका और स्विट्जरलैंड तथा विदेशों में रह रहे कला संरक्षकों ने सपोर्ट किया।

बाघ एशिया के 13 देशों में रहते हैं। उन्हें विलुप्त होने का खतरा है और इसलिए वे संरक्षित हैं।

गेरी हॉफस्टेटर एक अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सक्रिय प्रकाश कलाकार और फिल्म निर्माता हैं। अपने अनुमानों के साथ वह प्रकृति, संदेशों और विषयों को शानदार, संवेदनशील, शांत और कभी-कभी पलक झपकते ही व्यक्त करने में सफल रहते हैं। अपने प्रकाश के साथ वह जलवायु और हमारे ग्रह पर मनुष्यों, जानवरों और प्रकृति के लिए एक समृद्ध भविष्य के लिए भी प्रतिबद्ध हैं।

उन्होंने मार्च 2020 में आर्कटिक, अंटार्कटिक और जर्मेट के मैटरहॉर्न में हिमखंडों को रोशन करके कोविड के समय वैश्विक लॉकडाउन के दौरान पूरी दुनिया को एकजुटता का संदेश दिया।

संलग्न तस्वीरें केवल संपादकीय प्रयोग के लिए हैं।
अधिक जानकारी के लिए देखें: www.hofstetter-marketing.com

तकनीकी जानकारी

शीर्षक चित्र: टाइगर ऑन एइगर
स्थान: एगर नॉर्थ फेस, ग्रिंडेलवाल्ड, स्विटजरलैंड
एइगर पर्वत (13’000 फीट) पर रोशनी के जरिए बाघ की विशाल कलाकृति का प्रोजेक्शन
1 फरवरी 2022 से शुरू होने वाले बाघ वर्ष के लिए
स्विट्जरलैंड की ओर से एशियाई दुनिया को और बाघों को बचाने के लिए एक उपहार।
प्रोजेक्शंस की तिथि: जनवरी 2022
प्रोजेक्शसं की दूरी 7.7 किमी (25’300 फीट)
बाघ का आकार: 5.3 किमी (17’400 फीट) बड़ा और 2.2 किमी (7’200 फीट) ऊंचा
दुनिया की अब तक की सबसे बड़ी कलाकृति।
किसने बनाया: स्विस प्रकाश कलाकार गेरी हॉफस्टेटर
मददगार: ग्रिंडेलवाल्ड टूरिज्म, ग्रिंडेलवाल्ड समुदाय और स्विट्ज़रलैंड तथा बाहरी कला प्रेमी।
फोटोग्राफी: स्विस फोटोग्राफर फ्रैंक श्वार्ज़बैक
कॉपीराइट: गेरी हॉफस्टेटर, www.hofstetter-marketing.com

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close
Close