Politics

लोगों ने आम आदमी पार्टी को भ्रष्टाचार मुक्त शासन और जनलोकपाल के लिए वोट दिए थे लेकिन अब वह जनलोकपाल कहां है – मीनाक्षी लेखी

नई दिल्ली, 30 दिसंबर। नई दिल्ली, 30 दिसंबर. राष्ट्रीय प्रवक्ता एवं नई दिल्ली सांसद श्रीमती मीनाक्षी लेखी ने आज कनॉट प्लेस के हनुमान मंदिर और करोल बाग मेट्रो स्टेशन गेट नं 2 पर लगभग एक हजार लोगों की उपस्थिति में आम आदमी पार्टी पर तीखा प्रहार करते हुए पूछा कि उन्होंने भाजपा द्वारा दिए गए आरोप पत्र का उत्तर क्यों नहीं दिया। दिल्ली भाजपा ने शनिवार को अरविंद केजरीवाल सरकार के विरुद्ध एक आरोप पत्र जारी किया था जिसमें यह कहा गया था कि पिछले पांच वर्षों में इस सरकार ने लोगों को गुमराह किया और मुर्ख बनाया तथा वर्ष 2015 के चुनाव के समय किए गए वादों को पूरा नहीं किया।

इसी क्रम में श्रीमती लेखी ने आम आदमी पार्टी सरकार पर केवल सस्ती लोकप्रियता के लिए प्रचार करने और लोगों के लिए कुछ भी करने में असफल रहने के लिए पार्टी की कड़ी आलोचना की। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी ने ना केवल अपने चुनावी वादे पूरे नहीं किए बल्कि उसने तो घोषणापत्र को ही वेबसाइट से हटा दिया।आम आदमी पार्टी सरकार दिल्ली के लोगों को शुद्ध पेयजल देने में भी नाकाम रही और लोगों को बाजार से पीने का पानी खरीदकर पीना पड़ रहा है। उन्होंने पूछा कि किस प्रकार यह सरकार पानी फ्री दे रही है। लोगों ने आम आदमी पार्टी को भ्रष्टाचार मुक्त शासन देने और जनलोकपाल बिल पास कराने के लिए वोट दिया था, फिर आम आदमी पार्टी ने आजतक जनलोकपाल क्यों नहीं बनाया। मूलभूत सुविधाएं देने के लिए आवंटित निधि को आम आदमी पार्टी सरकार द्वारा स्वप्रचार के लिए खर्च किया गया। जब आम आदमी पार्टी सत्ता में आई तो दिल्ली का बजट 113 करोड़ रु सरप्लस का था लेकिन आज दिल्ली का बजट 5,399 करोड़ रु के घाटे में है।

श्रीमती लेखी ने यह भी आरोप लगाया कि आम आदमी पार्टी ने 500 नए स्कूल और 20 नए कॉलेज खोलने का वादा किया था किंतु उन्होंने केवल क्लासरूम बनाए और वह भी 29 लाख रु प्रति कमरे की दर से जबकि ऐसे कमरे 3-4 लाख रु में बनाए जा सकते थे। आम आदमी पार्टी की सरकार पूरी तरह फेल साबित हुई है और अब दिल्ली के लोग अगले चुनाव में उन्हें उचित जवाब देंगे।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close
Close