Uncategorized

कॉलेज की जमीन को अर्जनमुक्त करने के लिए शासन को प्रस्ताव

आज दिनांक 15/7/2020 को गढ़ी चौखंडी गांव के किसान विधायक श्री पंकज सिंह से नौएडा भुलेख विभाग के द्वारा इंटर कॉलेज की जमीन को अर्जनमुक्त करने के लिए शासन को प्रस्ताव भेजने में की गई खामियों के सम्बंध में मिले। इस मौके पर रतन पाल सिंह ने कहा कि नोएडा के भूलेख विभाग के द्वारा किए गए सर्वे 23/6/2006 (प्रपत्र 16) के आधार पर 45 हेक्टेयर पर निर्मित ग्राम गढ़ी चौखंडी के किसानों की मूल आबादी का गलत अधिग्रहण किया गया था उसमें से केवल खसरा नंबर 70 की भूमि को अर्जुन मुक्त करने के लिए शासन को प्रस्ताव भेजना न्यायोचित नहीं कहा जा सकता।
वही किसान नेता परविंदर यादव ने कहा कि मुख्यमंत्री के आदेशों के विपरित जाकर नोएडा भूलेख विभाग आज भी शासन व प्रशासन को गुमराह करने का कार्य कर रहा है।जो गलतियां मुल आबादी के प्रकरणों में बरसों पहले प्राधिकरण द्वारा की गई थी अब उनको मुख्यमंत्री के आदेशों पर सुधारने के बजाय और उनको जटिल बनाया जा रहा है नोएडा भूलेख विभाग की कार्यशैली का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि इंटर कॉलेज का पिछला हिस्सा खसरा नंबर 70 अर्जनमुक्त करने के लिए शासन को भेजा गया है व आगे का हिस्सा खसरा नंबर 71, 72, 73, 74, छोड़ दिया गया हैं।अगर नोएडा प्राधिकरण का किसानों के प्रति यही रवैया रहा तो भारतीय किसान संगठन नोएडा प्राधिकरण के खिलाफ आंदोलन करने के लिए मजबूर होगा।
इस मौके पर किसान रवि यादव ने कहा कि ग्राम गढ़ी चौखंडी के किसानों की संपूर्ण मूल आबादी भूमि जिसका उल्लेख अर्जुन पूर्व के सर्वे में किया गया है तथा जिस पर नोएडा का वास्तविक भौतिक कब्जा कभी भी नहीं रहा है उसे अर्जनमुक्त किया जाए।।
इस मौके पर नोएडा विधायक पंकज सिंह ने किसानों को आश्वासन दिया कि जल्दी ही आबादी के उक्त प्रकरणों का संज्ञान लेकर जो सही होगा वहीं किया जाएगा़ व दोषी अधिकारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई कराई जाएगी।
इस मौके पर उपस्थित रहे धर्मपाल प्रधान, ज्ञानेंद्र यादव, नेपाल यादव आदि।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close
Close