IndiaNationalNews

बेरहमी से बलात्कार करने वालों ने जिन्दा जला कर मार डाला और पुलिस इधर उधर दौड़ाती रही

सर्व शक्ति सेना अध्यक्ष नीरज सेठी ने राष्ट्रपति से लगाई हस्तक्षेप की गुहार, सजा ए मौत की मांग

हैदराबाद के साइबराबाद और शमशाबाद पुलिस एक दूसरे का इलाका बताती रह गयी और 27 वर्षीय पशु चिकित्सक डा. पोतुला प्रियंका रेड्डी का वहशी दरिन्दों ने बेरहमी से बलात्कार कर जिन्दा जला डाला। पूरा देश इस घटना से स्तब्ध है तुरंत कार्रवाई चाहती है। नई दिल्ली स्थित मुख्यालय पर सर्व शक्ति सेना ने एक आपात बैठक में केन्द्र सरकार से मांग की है कि अब न्याय का समय है। सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीरज सेठी ने राष्ट्रपति राम नाथ कोविन्द से हस्तक्षेप करते हुए मामले में सभी दोषियों की पहचान करके सभी को मौत की सजा दिए जाने की कार्रवाई शुरू किए जाने की मांग की है।

देश भर से आए सेना के पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष नीरज सेठी ने कहा कि हिन्दुत्व की यही पुकार है कि न्याय हो अबकी बार। उन्होंने माब लिंचिंग आदि मामलों में हो हल्ला मचाने वालों सहित सभी को लताड़ते हुए कहा कि मजाल है कि किसी की लुगाई को रत्ती भर डर लगा हो। निर्भया से भी वीभत्स तरीके डा. प्रियंका रेड्डी की सामूहिक बलात्कार के बाद जिन्दा जला देने की घटना से पूरा हिन्दू समाज आहत और स्तब्ध है। दुख की इस घड़ी में अपनी बहन को न्याय दिलाने की लड़ाई में सभी सर्व शक्ति सैनिकों से सहयोग की अपील करते हुए नीरज सेठी ने कहा कि आखिर कब तक हिन्दुओं को जिन्दा जलाया और मारा जाता रहेगा। कमलेश तिवारी का गला रेतने पर डांस करने वाले असद्दुदीन ओवशी के बिल में घुस जाने पर करारा प्रहार करते हुए श्री सेठी ने कहा कि डा. नारंग को पीट पीट कर मार दिया जाता है। अरूण माहौर को गोलियों से भून दिया जाता है। यूपी का चंदन गुप्ता हो या हरियाणा का गोपाल हर जगह बस हिन्दुओं को ही टारगेट करके मार दिया जाता है। पुलिसिया सुस्त कार्रवाई पर तत्काल एक्शन लिए जाने की मांग करते हुए नीरज सेठी ने राष्ट्रपति से गुहार लगायी है कि दोनों थाना पुलिस के थानेदारों को हिरासत में लिया जाए और तत्काल पूरे इलाके को सील करके सच्चाई को बाहर लाया जाए और दोषियों का मामला फास्ट ट्रेक कोर्ट में चलाकर सजा ए मौत का आदेश जारी किया जाना चाहिए।

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close
Close