opinion

देश मे आज़ादी के बाद ऐसी पहल हमारे हिन्दू परिवार के लिए सराहनीय कदम: नीरज सेठी

नागरिकता संशोधन बिल

अभी एक व्यक्ति ने पूछा कि नागरिक संशोधन बिल क्या है

मैंने पूछा आपके 4 भाई में से एक भाई घर छोड़कर चला गया लेकिन अब जहाँ गया उसे सताया जा रहा है रोटी तक नही मिल रही ।
अब वह फिर से आपके पास शरण मांगने आया है क्या करे ।

उसने आंख में आंसू पोंछते हुए कहा कि उसे फिर से घर मे ले लूंगा और माफ कर दूंगा ।

मैने कहा बस यही है CAB हमारे साथ के लोग जो पाकिस्तान अफगानिस्तान बांग्लादेश में बंटवारे के समय गए थे उनको प्रताड़ित किया जा रहा है माँ बहनों की रक्षा नही की जा रही है अब वो हिंदुस्तान की शरण मे आये हैं उनको हम यहाँ की नागरिकता देना चाहते हैं और सम्मान से जिवन जीने का मौका देंगे ।

अब वह व्यक्ति अपने खुशी के आंसू नही रोक पा रहा ।

देश मे आज़ादी के बाद ऐसी पहल हमारे हिन्दू परिवार के लिए सराहनीय कदम ।

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close
Close