India

यूनाईटेड हिन्दू फ्रंट ने नागरिकता बिल पर हुई हिंसा का विरोध किया।

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में राजधानी के जामिया विश्व विद्यालय के बाद आज जाफराबाद और सीलमपुर में हुई हिंसा पर यूनाईटेड हिन्दू फ्रंट ने कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है और इस हिंसा के लिए दिल्ली में सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी एवं अपना जनाधार खो चुकी कांग्रेस को जिम्मेवार ठहराया है।
फ्रंट द्वारा जारी एक प्रेस वक्तव्य में फ्रंट के अंतर्राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष श्री जय भगवान गोयल ने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून की आड़ में आम आदमी पार्टी व कांग्रेस द्वारा जो साजिश रची गई है उसी के तहत ही दिल्ली को सुलगाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि दिल्ली विधानसभा के चुनाव को देखते हुए आम आदमी पार्टी व कांग्रेस में मुस्लिम वोटों को अपनी ओर आकर्षित करने के लिए होड़ लगी हुई है जिसका ही दुष्परिणाम है कि जिंदा लोगों को बसों में जलाया जा रहा है और यह कहना बिल्कुल भी अनुचित नहीं होगा कि ये दोनों ही दल दिल्ली में भी गौधरा जैसी घटना की साजिश रच चुके है।
श्री गोयल ने कहा कि देश का सभ्य मुस्लिम समाज भी नागरिकता संशोधन कानून का समर्थन कर रहा है और वह अच्छी तरह से समझता है कि इस कानून के लागू होने के बाद देश की प्रगति व विकास में मजबूती आएगी जो सभी देश वासियों के लिए हितकर होगा, मगर आम आदमी पार्टी व कांग्रेस इस मामले को लेकर लोगों को बरगलाना कर उन्हें भड़का रहे है जिसका ही दुष्परिणाम जामिया व जाफराबाद व सीलमपुर की घटनाएं है।
श्री गोयल ने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून देश व समाज हित में है और इसका विरोध करने वाले वे ही चंद लोग है जो हमेशा से राष्ट्र की प्रगति के बाधक रहे है। उन्होंने नागरिकता कानून का विरोध करने वाले लोगों से अपील करते हुए कहा कि बनाए गए कानून का गहराई से अध्ययन करें यह मुसलमानों के विरोध में नहीं है बल्कि उनकी प्रगति में मद्दगार साबित होगा। कांग्रेस व आम आदमी पार्टी को आगाह करते हुए उन्होंने कहा कि सत्ता व वोट के लिए देश को आग की भट्ठी में झोकने का वे प्रयास न करें अन्यथा उनका यह कुप्रयास उन्हें गर्त में मिला देगा।

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close
Close