News

अमेज़न पर पियूष गोयल के बयान पर चिदंबरम की आलोचना व्यापारियों को सहन नहीं

केंद्रीय वाणिज्य मंत्री श्री पीयूष गोयल द्वारा कल अमेजन मुखिया जेफ़ बेजोस की एक बिलियन डॉलर के निवेश की घोषणा की वास्तविकता बताने वाले बयान पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता श्री पी चिदंबरम द्वारा की गई आलोचना आलोचना का कॉन्फ़ेडरेशन ऑफ़ आल इंडिया ट्रेडर्स ने भारी विरोध किया है और कहा है की श्री चिदमबरम ने देश के व्यापारियों का पक्ष न लेकर अमेज़न का पक्ष लिया है उससे देश के 7 करोड़ व्यापारियों को बेहद निराशा हुई है और इसके लिए श्री चिदमबरम की कड़ी आलोचना की गई है !

कैट ने कहा कि श्री गोयल का बयान सही समय पर आया है और उन्होंने विश्व के लिए एक सही संकेत दिया है कि भारत का बाजार दुनिया भर के लिए खुला है, लेकिन भारत में व्यापार करने वाली विदेशी कंपनियों को यह समझना होगा कि उन्हें भारत की नीति और कानून और का अक्षरश पालन करना ही होगा ! देश भर के व्यापारियों ने श्री गोयल के बहुत स्पष्ट संदेश पर प्रसन्नता व्यक्त की है क्योंकि उन्होंने सरकार की दृष्टि और नीति को रेखांकित करने में कोई कसर नहीं छोड़ी है ! कैट ने कहा की हम प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी और वाणिज्य मंत्री श्री पीयूष गोयल के साथ अपनी क्षमताओं का दोहन करके अपने बल पर देश को 5 ट्रिलियन अर्थव्यवस्था में ले जाने के लिए पूरी तरह से सरकार के साथ खड़े हैं और भारत बहुराष्ट्रीय कंपनियों की दया पर निर्भर नहीं है।

कैट के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री बी.सी. भरतिया एवं राष्ट्रीय महामंत्री और श्री प्रवीन खंडेलवाल ने कहा कि श्री चिदंबरम की बेचैनी को समझा जा सकता है क्योंकि वह खुद एक आर्थिक अपराधी हैं और इसलिए अमेज़न और फ्लिपकार्ट जैसी आर्थिक आतंकवादी कंपनियों के समर्थन में उतरे हैं ।श्री चिदंबरम ने अपने बयान के कारण दिल्ली चुनावों में कांग्रेस के लिए कब्र खोद ली है और दिल्ली के व्यापारी आने वाले चुनावों में कांग्रेस को उसका सही स्थान दिखाने के लिए प्रतिबध्द हैं !

श्री भरतिया और श्री खंडेलवाल ने कहा कि श्री चिदंबरम द्वारा श्री गोयल की आलोचना बहुत ही गैर जिम्मेदाराना है एक महत्वपूर्ण मुद्दे पर टांग अड़ाने की नापाक कोशिश है जो सीधे तौर पर देश के 7 करोड़ व्यापारियों और उनके लगभग 40 करोड़ कर्मचारियों की आजीविका से जुड़ा है। “यह कांग्रेस है जो देश के खुदरा व्यापार में वर्तमान गड़बड़ी के लिए जिम्मेदार है क्योंकि कांग्रेस ही खुदरा व्यापार में एफडीआई लाइ थी और सरकार में श्री चिदंबरम एक वरिष्ठ मंत्री थे और अब उनके बयान से लगता है कि वे अमेज़न के समर्थन में खड़े हैं और जो कोई भी अमेज़न और फ्लिपकार्ट के समर्थन में खड़ा होगा उसे देश के व्यापारियों के रोष और आक्रोश का सामन करना होगा ! अमेज़ॅन और फ्लिपकार्ट दोनों ही देश के खुदरा व्यापार को मारने के लिए तैयार बैठे हैं और व्यापारियों का समर्थन करने के बजाय श्री चिदंबरम अमेज़न का पक्ष ले रहे हैं जिसका तथाकथित निवेश देश के व्यापारियों के खिलाफ इस्तेमाल किया जाएगा।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close
Close