News

जैन समाज की सबसे बड़ी कम्युनिटी किचन आचार्य सुशील मुनि आश्रम में

नई दिल्ली भारत सहित विश्व के 200 से अधिक देश वैश्विक महामारी कोरोना से जूझ रहे हैं।

सरकार एवं प्रशासन दिन रात एक करके इस महामारी से डटकर मुकाबला कर रहे हैं। देश में 25 मार्च से चल रहे लॉक डाउन की वजह से आम जनमानस निम्न वर्ग एवं जरूरतमंद किसी भी व्यक्ति को खाने की कोई दिक्कत ना हो इसके लिए आचार्य सुशील मुनि आश्रम शंकर रोड नई दिल्ली स्थित भोजनालय के प्रबंधक श्री अशोक कोठारी एवं संस्था के संस्थापक अध्यक्ष श्री मुलख राज जैन ने एक संयुक्त वक्तव्य में कहा कि जैन समाज की चार बड़ी संस्थाओं विश्व अहिंसा संघ, जपो नवकार परिवार, जैन इंटरनेशनल ट्रेड आर्गेनाईजेशन(जीतो) एवं रत्नत्रय फाउंडेशन को एक साथ एक मंच पर लाकर संभवतः राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली- एनसीआर जैन समाज की सबसे बड़ी कम्युनिटी किचन चला रखी है। यह भोजनशाला सामाजिक दूरी एवं सरकार द्वारा जारी दिशा निर्देशों का पालन करते हुए प्रतिदिन 10000 से 12000 लोगों के लिए उच्च गुणवत्ता वाला शुद्ध एवं स्वातिक भोजन दिल्ली के सभी स्थानों पर पुलिस एवं प्रशासन की मदद से उपलब्ध करवा रही है। भोजनशाला में कुशल कारीगरों की देखरेख में ताज़ी हरी सब्जियां, बासमती चावल, स्वयं द्वारा तैयार मसाले व देशी घी का उपयोग करके भोजन पकाया जाता है। ये भोजन पूर्णत हाईजनिक बातावरण में अंतरराष्ट्रीय मानकों के अनुसार पैकिंग करके दिल्ली पुलिस की अनेक गाड़ियों एवं आश्रम की निजी गुरु प्रसादम वाहन द्वारा दिल्ली के सभी जरूरतमंद स्थानों पर सुबह-शाम दोनों समय पहुचाया जाता है। लॉक डाउन के प्रथम दिन से चल रही इस भोजनशाला में अब तक लगभग तीन लाख साठ हजार से अधिक लोगों को भोजन वितरित किया जा चुका है। श्री कोठारी ने बताया कि जब तक लोग डाउन रहेगा, तब तक नर सेवा नारायण सेवा का मंत्र याद रखते हुए हम देश की सेवा में समर्पित रहेंगे। इस कार्य को सुचारु रूप से चलाने में चारों संस्थाओं के समस्त पदाधिकारी एवं आम समाजजनों का भरपूर सहयोग तन मन धन से मिल रहा है। निश्चित ही भारत कोरोना पर विजय पा लेगा।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close
Close