News

अनाधिकृत कालोनियों के नियमन व रजिस्ट्री के संबध में हुई धोखाधड़ी के लिए जिम्मेदार भाजपा वआप पार्टी के खिलाफ प्रदेश अध्यक्ष श्री सुभाष चोपड़ा के नेतृत्व में कांग्रेस नेमोर्चा खोला।

अनाधिकृत कालोनियों के मुद्दे

नई दिल्ली, 30 नवम्बर, 2019- दिल्ली की अनाधिकृत कालोनियों के नियमन व रजिस्ट्री खोलने के मुददे पर दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष श्री सुभाष चोपड़ा ने आज फिर केन्द्र की भाजपा सरकार व दिल्ली की केजरीवाल सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए मांग की है कि अनाधिकृत कालोनियों के नियमन संबधी 19 नवम्बर को जारी अधिसूचना की धारा 7ए को तुरंत प्रभाव से निरस्त किया जाए।

पार्टी कार्यालय राजीव भवन में आज आयोजित संवाददाता सम्मेलन में प्रदेश अध्यक्ष श्री सुभाष चोपड़ा, दिल्ली सरकार के पूर्व शहरी विकास मंत्री श्री अरविन्दर सिंह लवली, मुख्य प्रवक्ता श्री मुकेश शर्मा ने एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में दोनां सरकारों पर इन कालोनियों के मुद्दे पर 40 लाख लोगों के साथ धोखाधड़ी करने का आरोप लगाते हुए कहा कि दोनो दलों ने षडयंत्र के तहत जानबूझकर कांग्रेस द्वारा जारी अधिसूचना को निरस्त करके नई अधिसूचना इसलिए जारी की है ताकि इन कालोनियों के नियमन के मुद्दे को उलझा कर रखा जा सके।

श्री चोपड़ा ने आज फिर दोहराया कि दिल्ली की लगभग 40 प्रतिशत कालोनियों को तोड़ने के भाजपा व आप पार्टी के षडयंत्र को कांग्रेस कभी कामयाब नही होने देगी। उन्हांने कहा कि यह पहला मौका है जब केन्द्रीय शहरी विकास मंत्री हरदीप पुरी ने कालोनियों की सूची को सदन पटल पर नही रखा। उन्होंने यह भी कहा कि सदन पटल पर सूची न रखना यह साबित करता है कि भाजपा को इस बात का पहले से अपराधबोध है कि सूची सामने आने के बाद दिल्ली के लोग उन्हें चैन से नही बैठने देंगे। श्री चोपड़ा ने फिर दोहराया कि कालोनियों के नियमन के संबध में कांग्रेस को सिर्फ स्व. इंदिरा जी की 1976-77 की नीति के अलावा कोई दूसरी नीति मंजूर नही है।

श्री अरविन्दर सिंह लवली ने केन्द्रीय शहरी विकास मंत्री श्री हरदीप पुरी पर तंज कसते हुए कहा कि अनाधिकृत कालोनियों की हालत ठीक उसी तरह है कि ‘‘हर साख पे उल्लू बैठा है, अंजामें गुलिस्ता क्या होगा’’। उन्होंने केजरीवाल के उस बयान पर आपत्ति जताते हुए कहा कि उनका यह कहना कि दिल्ली सरकार केन्द्र को पहले ही इन कालोनियों को नियमित करने की सिफारिश कर चुकी है, पूरी तरह गलत है। उन्होंने इसकी पुष्टि करते हुए एक दस्तावेज जारी किया, जो केजरीवाल के मुख्यमंत्री काल का है जिसमें स्पष्ट रुप से उल्लेख है कि कालोनियों की सीमा निर्धारित करने का काम दिल्ली सरकार का है। इसके साथ दस्तावेजों की प्रतिया संलग्न है। श्री लवली ने कहा कि भाजपा सांसद श्री रमेश बिधूड़ी व भाजपा नेता कालोनियों में मिठाई बांटकर लोगों जले पर नमक छिडकने का काम कर रहे है।

श्री मुकेश शर्मा ने घोषणा की कि कांग्रेस कार्यकर्ता दिल्ली की अनाधिकृत कालोनियों के प्रतिनिधियों के साथ केन्द्र की भाजपा सरकार व केजरीवाल सरकार के खिलाफ आंदोलन के पहले चरण में केन्द्रीय शहरी विकास मंत्री श्री हरदीप पुरी के निर्माण भवन स्थित कार्यालय का घेराव करेगे। उन्होंने कहा कि दक्षिणी, पश्चिमी, पूर्वी व उतर पूर्वी, उत्तर पश्चिमी दिल्ली संसदीय क्षेत्र की कालोनियां अधिसूचना की धारा 7ए से पूरी तरह प्रभावित है। उन्होंने दिल्ली के लोगों से अपील की कि वो भाजपा व आप पार्टी के खिलाफ सड़को पर आऐ।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close
Close