Life Style

इतिहास रच रही है मातृभूमि सेवा संस्था

मातृभूमि सेवा संस्था के उद्देश्य तथा अब तक सीमित मानव संसाधन में किए गए कार्य

🇮🇳1.बच्चों को सभ्य तथा राष्ट्रभक्त जिम्मेदार नागरिक बनाने का प्रयास करना ताकि बच्चे देश की बुराइयों/समस्यायों को पहचान पाएं और अपने व्यक्तिगत प्रयासों से इन्हें दूर करने में महत्वपूर्ण योगदान दे पाएं।

🇮🇳 2. बच्चों को देश के गौरवमयी संस्कृति व इतिहास का ज्ञान करना।

🇮🇳 3. बच्चों में मातृभूमि के प्रति अगाध प्रेम विकसित करवाना। उनके मन मस्तिष्क में ये भाव भरना की राष्ट्र प्रथम, फिर समाज फिर मैं और मेरा परिवार। मातृभूमि से ऊपर कुछ नहीं।

🇮🇳 4. बच्चों के मन व मस्तिष्क में ज्ञात अज्ञात देश के क्रान्तिकारियों, स्वतंत्रता सेनानियों, राष्ट्रभक्त दानवीरों , राष्ट्रभक्त साहित्यकारों व सुरक्षा बलों के प्रति आदर एवम् सम्मान का भाव विकसित करना।

🇮🇳 5. संस्था आर्थिक रूप से कमजोर विद्यार्थियों को निशुल्क कोचिंग उपलब्ध करवाएगी।

🇮🇳 6. बच्चों को देश में व्याप्त वर्तमान समस्याओं से अवगत कराना व उनको समाधान में सहभागी बनाना।

🇮🇳 7. बच्चों को उन छोटी छोटी बुराइयों से दूर रहने के भाव व गुण पैदा करना ताकि बड़े होकर वे देश की किसी समस्या बनने के स्थान पर उसका समाधान बनें।

🇮🇳 8. उपरोक्त उद्देश्यों की पूर्ति हेतु लाइव ऑनलाइन प्लेटफॉर्म का भी उपयोग करेगी।

🇮🇳 9. संस्था क्रान्तिकारियों/स्वतंत्रता सेनानियों/अन्य राष्ट्रभक्तों के जीवन परिचय तथा उनसे जुड़ी क्रांतिकारी घटनाओं को जनमानस तक पहुंचाने के लिए पुस्तकालय स्थापित कर निशुल्क पुस्तकें उपलब्ध करवाएगी।

🇮🇳 10. संस्था क्रान्तिकारियों/स्वतंत्रता सेनानियों/अन्य राष्ट्रभक्तों के जीवन परिचय तथा उनसे जुड़ी क्रांतिकारी घटनाओं को डिजिटल रूप देकर उसे निशुल्क ऑनलाइन उपलब्ध करवाएगी।

11. संस्था क्रान्तिकारियों/स्वतंत्रता सेनानियों/अन्य राष्ट्रभक्तों के जीवन पर प्रतिवर्ष कैलेंडर प्रकाशित कर रही है और आगे भी करती रहेगी।

🇮🇳 12. संस्था उद्देश्यों की पूर्ति हेतु राष्ट्र निर्माण विद्या निकेतन नाम से विद्यालयों कि श्रृंखला संचालित करने का प्रयास करेगी।

🇮🇳 13. संस्था निजी व सरकारी विद्यालयों में अपने प्रशिक्षित (विशेष) शिक्षकों/शिक्षिकाओं के माध्यम से निशुल्क उपरोक्त उद्देश्यों की पूर्ति हेतु शिक्षण क्रिया प्रदान करवाएगी।

🇮🇳 14. संस्था क्रांतिकारियों, स्वतंत्रता सेनानियों व अन्य राष्ट्रभक्तों (राष्ट्रवादी साहित्यकारों, दानवीरों आदि) से संबंधित दस्तावेजों को एकत्र कर संग्रहालय बनाने का प्रयास करेंगी।

🇮🇳 15. संस्था क्रांतिकारियों, स्वतंत्रता सेनानियों व अन्य राष्ट्रभक्तों (राष्ट्रवादी साहित्यकारों, दानवीरों आदि) के जीवन व उनसे जुड़ी घटनाओं को पुस्तकों, पत्रिकाओं व समाचार पत्रों में प्रकाशित करवाने का प्रयास करेंगी ताकि जनमानस तक इनके त्याग व बलिदान को पहुंचाया जा सके।

🇮🇳 16. भाई राजीव दीक्षित जी के विचारों का अनुसरण व प्रचार प्रसार कर राष्ट्रसेवा हेतु सक्षम नागरिकों का निर्माण करना।

🇮🇳🇮🇳 संस्था द्वारा किए गए प्रयास …. 🇮🇳🇮🇳

1. सरकारी विद्यालयों में कार्यरत शिक्षा जगत से जुड़े राष्ट्रभक्त साथी बच्चों को नैतिक व राष्ट्रभक्ति की शिक्षा देने पर विशेष ध्यान दे रहें हैं।

2. संस्था क्रान्तिकारियों/स्वतंत्रता सेनानियों व अन्य राष्ट्रभक्तों के जीवन पर प्रतिवर्ष कैलेंडर प्रकाशित व वितरित कर देशप्रेम का अलख जगाने का प्रयास कर रही है।

3. संस्था राष्ट्रभक्त भाई यशपाल बंसल जी की मदद से विद्यार्थियों को क्रान्तिकारियों/स्वतंत्रता सेनानियों के घर व उनसे संबंधित स्थलों पर दर्शन करा उनमें राष्ट्रप्रेम के भाव को भरने का प्रयास वर्ष 2009 से कर रही है। इसी क्रम में बच्चों को वर्ष 2013 में काकोरी कांड के शहीदों के घर व उनसे जुड़े स्थलों पर लेकर गए। वर्ष 2016 में बच्चों को शहीद भगत सिंह जी के पुश्तैनी गृह पंजाब के खटकड़कलां गांव व पाकिस्तान से सटे जिला फिरोजपुर के हुसैनीवाला लेकर गए जहां शहीद भगत सिंह जी, सुखदेव जी व राजगुरु जी का अंतिम संस्कार किया गया था।

4. संस्था समय समय पर देश में घटित होती राष्ट्र विरोधी घटनाओं पर देश व समाज को विभिन्न माध्यमों द्वारा जागरूक कर राष्ट्र विरोधी ताकतों को कमजोर करने का प्रयास करती है। उदाहरण:- JNU में लगे राष्ट्र विरोधी नारों के दौरान विद्यार्थियों के साथ विद्यालय के आसपास के क्षेत्र में नागरिकों को जागरूक किया।

5. संस्था के भाई अमित कुमार पाण्डेय, उप प्रबंधक जी के नेतृत्व में लगभग 50 से अधिक छात्राओं को प्रत्येक शनिवार को स्वच्छ व पौष्टिक भोजन उपलब्ध करवाया जा रहा है।

6. भाई छत्रपाल नौहवार जी के नेतृत्व में आर्थिक रूप से कमजोर विद्यार्थियों को IIT/MEDICAL की कोचिंग निशुल्क दी जा रही है।

7. प्राथमिक शिक्षा उपरांत उच्चतर शिक्षा के लिए अन्य विद्यालय में प्रवेश लिए बच्चों को मार्गदर्शन व निशुल्क पुस्तकें उपलब्ध करवाते हैं।

8. प्राथमिक शिक्षा उपरांत उच्चतर शिक्षा (6-12 तक तथा कॉलेज) के लिए वॉट्सएप ग्रुप के माध्यम से जोड़े रखना, नैतिक व राष्ट्रभक्ति के गुणों को बच्चों में निरंतर विकसित करना व वर्तमान हालात में बच्चों की रुचि/प्रतिभा अनुसार आगे की शिक्षा के लिए विषय के चयन में परामर्श व मार्गदर्शन देते हैं।

9. वर्ष 2013 में उत्तराखंड में आए भीषण बाढ़ के दौरान अपने पूर्व विद्यार्थियों के साथ मिलकर 02 ट्रक खाद्य पदार्थ (आटा, चावल, भूंजे चने,), पानी की बोतलें, कपडें तथा 1,35,000 रूपए की सहयोग राशि एकत्र कर राष्ट्रसेवा करने का प्रयास किया।

10. प्रतिवर्ष, साल में अनेकों बार भाई यशपाल बंसल जी के सहयोग से क्रान्तिकारियों/स्वतंत्रता सेनानियों की जयंती/बलिदान दिवस/पुण्यतिथि पर जनमानस को प्रेरित करने व देशभक्तों के प्रति सम्मान प्रकट करने के लिए कार्यक्रम आयोजित करते हैं।

  1. संस्था के साथ जुड़े पूर्व सैनिक भाई धर्मेन्द्र अज्ञानी जी के संरक्षण व नेतृत्व में उत्तर प्रदेश के मैनपुरी के 03 अलग अलग स्थानों पर बालसंस्कार विद्यालयों द्वारा बच्चों को योग एवम् नैतिक/राष्ट्रप्रेम की शिक्षा दी जा रही है। 🇮🇳🇮🇳मातृभूमि सेवा संघ 🇮🇳🇮🇳🇮🇳8800784848, 9891960477,9873628849
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close
Close