Politics

आर्थिक अपराधियों को दंड देने की जगह पूरी भाजपा बैंकों से धोखा करने वाले आर्थिक अपराधियों की मददगार साबित हुई है- सुभाष चोपड़ा

नई दिल्ली, 24 नवम्बर, 2019- दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष श्री सुभाष चोपड़ा ने आज आर्थिक मंदी के लिए जिम्मेदार केन्द्र की मोदी सरकार के खिलाफ हमला जारी रखते हुए कहा कि देश में भयंकर बेरोजगारी, बेहाल अर्थव्यवस्था व कृषि क्षेत्र में आए संकट के लिए मोदी सरकार की नोटबंदी व जीएसटी की दरां में वृद्धि जैसी जन विरोधी नीतियां जिम्मेदार है। श्री चोपडा आज पार्टी द्वारा आयोजित हल्ला बोल कार्यक्रम के तहत बाबरपुर जिला में बाबरपुर बस टर्मिनल, करावल नगर जिला के गोकलपुरी चौक व पटपड़गंज जिला के भोगल सेन्ट्रल रोड़ पर आयोजित तीन अलग-अलग आक्रोश रैलियों को सम्बोधित कर रहे थे।

बाबरपुर जिला, करावल नगर जिला और पटपड़गंज जिला की आक्रोश रैलियों की अध्यक्षता जिला अध्यक्ष सर्वश्री कैलाश जैन, ए.आर.जोशी और दिनेश कुमार एडवोकेट कर रहे थे। रैली को श्री सुभाष चोपड़ा के अलावा, पूर्व अध्यक्ष श्री अरविन्दर सिंह लवली, पूर्व सांसद परवेज हाश्मी, अ0भा0क0कमेटी के सचिव चौ0 अनिल कुमार, पूर्व विधायक सर्वश्री चौ0 मतीन अहमद, हसन अहमद, विपिन शर्मा, तरविन्दर सिंह मारवाह, वीर सिंह धींगान, विनय शर्मा, बलजोर सिंह, आसिफ मौहम्मद, पूर्व मेयर फरहाद सूरी, पूर्वी दिल्ली में कांग्रेस नेता कु0 रिंकू, निगम पार्षद अमरलता सांगवान, दर्शना जाटव, शोयब दानिश, सेवादल मुख्य संगठक सुनील कुमार, अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ चैयरमेन अली मेंहदी, पूर्व निगम पार्षद चौ0 अजीत, इंदू, ब्रहम स्वरुप शर्मा, ईश्वर बागड़ी, सुभाष मल्होत्रा, सविता शर्मा और अनिल वशिष्ठ, वेद प्रकाश बेदी, चौ0 सुखबीर सिंह, दीपक गौठी, चौ0 रोहतास, जय करण चौधरी, बीडी शर्मा, प्रिया जंयत, दीपक भारद्वाज, विजय त्यागी और विजय चौधरी की ने मौजूद थे।

श्री चोपड़ा ने मोदी सरकार पर सीधा हमला बोलते हुए कहा कि आर्थिक अपराधियों को दंड देने की जगह पूरी भाजपा बैंकों से धोखा करने वाले आर्थिक अपराधियों की मददगार साबित हुई है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने देश के नागरिकों का ‘‘पैसा लूटो और भाग जाओ’’ नीति को बढ़ावा दिया है। उन्होंने आंकडों का हवाला देते हुए कहा कि मोदी सरकार की भ्रष्ट नीतियों के कारण 8,00,000 करोड़ रुपये की राशि बट्टे- खाते में चली गई। उन्होंने यह भी कहा कि मामला यहां तक नही है बल्कि मोदी मित्रों के चलते बैंकों को 1,74,255 करोड़ रुपये का चूना भी लगा है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार के शासन में बैंकों को अमीरों ने लूटा है, वहीं दूसरी ओर गरीबों के लिए बैंकों के रास्ते बंद है।

श्री अरविन्दर सिंह लवली ने कहा कि मोदी सरकार का ‘‘न खाऊॅगा और न खाने दूंगा’’ का नारा पूरी तरह खोखला साबित हुआ है। उन्होंने कहा कि सच तो यह है कि भाजपा शासन में भाजाईयों ने दोनो हाथों से सरकारी सम्पतियों को लूटा है और बैंकों को पूरी तरह खोखला कर दिया हैं। उन्होंने याद दिलाया कि स्व0 श्रीमती इंदिरा गांधी ने बैंकों का राष्ट्रीयकरण करके देश के आम आदमी के लिए बैंक के दरवाजे खोले थे, वहीं मोदी सरकार ने आज बडे़ रसूक वाले लोगों के लिए बैंको को लूटने के लिए दरवाजे खोल दिए। उन्होंने आर्थिक मंदी की इसे भी बड़ी वजह बताई।

पूर्व सांसद श्री परवेज़ हाश्मी और चौ0 मतीन अहमद ने इस मौके पर कहा कि मोदी सरकार का 5 ट्रिलियन डॉलर अर्थव्यवस्था का सपना केवल जुमला है। उन्होंने कहा कि देश की चौपट अर्थव्यवस्था की चपेट में न केवल गरीब आदमी आया है बल्कि मध्यम वर्ग व किसानों की भी बुरी हालत है। उन्होंने कहा कि नोटबंदी से मोदी मित्र मालामाल हुए है वही देश की आम जनता कंगाल हो गई है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार जुमलों से गरीब आदमी का पेट भरना चाहती है, जो पूरी तरह जले पर नमक छिड़कने के समान है।

गुस्साऐं कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने बाबरपुर, भोगल व गोकुलपुरी में स्थानीय मार्केटों में जूलूस के बाद सड़कों पर बैठकर भी अपना विरोध प्रकट किया। तिरंगा झंडा व सरकार विरोधी नारे लिखी हुई तख्तियां हाथों में लेकर जूलूस निकाले। जूलूस में मोदी सरकार की आर्थिक नीतियों से नाराज स्थानीय लोगों ने भी हिस्सा लिया, जिसमें व्यापारी और छोटे दुकानदार भी शमिल थे।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close
Close