NationalNews

रेहड़ी पटरी वालों के साथ केजरीवाल सरकार ने किया धोखा- मनोज तिवारी

नई दिल्ली, 3 दिसंबर। भारतीय जनता पार्टी दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष श्री मनोज तिवारी ने आज प्रदेश कार्यालय पर रेहड़ी पटरी संगठन के प्रतिनिधियों के साथ पत्रकारों को सम्बोधित किया। केजरीवाल सरकार ने दिल्ली के रेहड़ी पटरी वालों से वादा किया था कि दिल्ली में सरकार बनने के 90 दिनों के भीतर नियम व कानून बनाकर रेहड़ी पटरी वालों को स्थायी किया जायेगा, लेकिन सत्ता में आने के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री ने 58 महीने का कार्यकाल बीत जाने के बाद भी आज तक कोई नियम या कानून नहीं बनाया। रेहड़ी पटरी वालों के लिए कानून न बनाकर सबसे बड़ा धोखा इनके साथ आम आदमी पार्टी की सरकार ने किया है। इस प्रेसवार्ता में प्रदेश मंत्री श्री सत्येन्द्र सिंह, पूर्वांचल मोर्चा के अध्यक्ष श्री मनीष सिंह, प्रदेश मीडिया प्रभारी श्री प्रत्यूष कंठ, सह-प्रभारी श्री नीलकांत बख्शी, प्रमुख श्री अशोक गोयल देवराहा एवं रेहड़ी पटरी संगठन के अध्यक्ष श्री सागर यादव सहित बड़ी संख्या में रेहड़ी पटरी संगठनों के लोग उपस्थित थे।

पत्रकारों को सम्बोधित करते हुये दिल्ली भाजपा अध्यक्ष श्री मनोज तिवारी ने कहा कि 23 सितम्बर को दिल्ली के कांस्टिट्यूशन क्लब में रेहड़ी पटरी संगठन के लोगों के साथ हुई मीटिंग में बताया गया कि दिल्ली की सत्ता में आने के बाद आम आदमी पार्टी ने रेहड़ी पटरी वालों से जो वादा किया था उसें पूरा नहीं किया और इन्हें गुमराह कर दिल्ली में सरकार बना ली गई। आज अपनी फरियाद लेकर दर दर भटकने वालें रेहड़ी पटरी वालों के दर्द से मुख्यमंत्री का कोई वास्ता नहीं है, दिल्ली सरकार इनकी सुनने तक को तैयार नहीं है। आम आदमी पार्टी की सरकार ने इन्हें आश्वासन तो दिया लेकिन विश्वासघात भी इन्ही के साथ किया। दिल्ली भाजपा ने इनकी समस्याओं को उठाया और इनके साथ खड़े हुई।

श्री तिवारी ने कहा कि मुख्यमंत्री केजरीवाल ने 58 महीने का कार्यकाल झूठ के विजन के साथ निकाल दिया लेकिन दिल्ली के विकास के लिए कोई काम नहीं किया। जिस दिन रेहड़ी पटरी वालों ने कांस्टिट्यूशन क्लब में बैठक की उससे घबरा कर मुख्यमंत्री ने शाम को प्रेस वार्ता कर कहा कि एक महीने में रेहड़ी पटरी वालों की समस्या को सुलझा दंेगे। पीड़ित लोगों ने सरकार पर विश्वास कर इंतजार किया और एक महीने का समय दे दिया लेकिन तीन महीने बीत जाने के बाद भी आज तक समस्या जस की तस बनी हुई है। रेहड़ी पटरी वालों की अपनी कुछ मांगें हंै जिनके साथ दिल्ली भाजपा खड़ी है। हमारा विजन है कि सत्ता में आने के बाद रेहड़ी पटरी वालों की मांगों को हम पूरा करेगें। इनकी मांग है कि रेहड़ी पटरी वालों के लिए नियम व कानून बनाया जाये, क्योंकि नियम न होने की वजह से इन्हें बड़ी दर्द भरी जिन्दगी काटनी पड़ती है। इनका सामान जब्त कर लिया जाता है और वापिस नहीं किया जाता जिसके कारण इन्हें भारी नुकसान झेलना पड़ता है।

श्री तिवारी ने कहा कि टाउन वैन्डिग समिति को अधिकार मिले लेकिन वो पिक एण्ड चूज न करें उनके साथ स्थानीय प्रधान का होना जरूरी है। रेहड़ी पटरी वालों के लिए माननीय न्यायलय का भी आदेश है कि इन्हें तब तक उजाड़ा नहीं जाये जब तक कोई वैकल्पिक व्यवस्था इनके लिए न की जाये। मुख्यमंत्री केजरीवाल के रेहड़ी पटरी वालों से बोले गये झूठ को संविधान के सर्वोच्च मन्दिर संसद में पर्दाफाश करने का काम हम करेंगे। सर्वें कराया जाये और नियम व कानून बनाकर रेहड़ी पटरी वालों को स्थायी किया जाये।

रेहड़ी पटरी संगठन के अध्यक्ष श्री सागर यादव ने कहा कि दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने रेहड़ी पटरी वालों के साथ धोखा करने के साथ ही इन्हें ठगने का काम किया है। दिल्ली सरकार ने टी वी सी कमेटी गठित करने की बात की थी लेकिन 58 महीने का कार्यकाल बीत जाने के बाद भी आज तक इस ओर कोई काम नहीं किया। आज तक दिल्ली सरकार पूरी टी.वी.सी नहीं बना पाई है। 28 कमेटियों का गठन होना था, लेकिन केवल 20-25 कमेटी ही बन पायी है और अब सरकार का कार्यकाल भी समाप्त होने जा रहा है। दिल्ली सरकार की नाकामी है कि वो समाधान नहीं हमें उलझाना चाहती है। हमारी केवल एक मांग है कि रेहड़ी पटरी वालों के लिए नियम व कानून जल्द से जल्द बनाया जाये।

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close
Close