National

-दोहरे हत्याकांड में प्रयोग की पिस्तौल भी निकली अवैध

आरोपी हेमंत लांबा द्वारा बताए गए स्थान पर पहुंची पुलिस, नहीं मिला आर्म्स लाईसैंस

रेवाड़ी, 14 दिसंबर(महेंद्र भारती)।
राजस्थान की एक युवती तथा टैक्सी ड्राइवर की हत्या करने की वारदात में शामिल आरोपी हेमंत लांबा द्वारा हत्या की वारदात में प्रयोग की गई पिस्तौल लाईसैंसी बताई गई थी। पुलिस द्वारा पूछताछ के बाद उसके बताए गए स्थान पर पिस्तौल का लाईसैंस ढूंढने के लिए गई तो वहां कुछ नहीं मिला। धारूहेड़ा थाना प्रभारी सुधीर कुमार ने बताया कि आरोपी हेमंत ने पूछताछ में पिस्तौल से संबंधित जो जानकारी दी थी वो सारी झूठी निकली है। हत्या में प्रयोग की गई पिस्तौल भी अवैध है। रिमांड के दौरान साक्ष्य जुटाने के लिए पुलिस आरोपी को मायापुरी दिल्ली भी लेकर पहुँची जहाँ आरोपी ने युवती की हत्या में प्रयोग की गई कार को बेचा था। थाना प्रभारी सुधीर कुमार ने बताया कि 7 दिसंबर की सुबह राजस्थान की रहने वाली एक युवकी का शव नंदरामपुर बास रोड पर राम नगर के पास मिली थी। युवती को गोली मारी गई थी। उसकी पहचान दीप्ति गोयल के रूप में हुई थी। बाद में पता चला था कि उसकी हत्या करने वाले आरोपी ने ही टैक्सी चालक देवेन्द्र की भी हत्या की है। दोहरे हत्याकांड को अंजाम देने वाले आरोपी दिल्ली निवासी हेमंत लांबा को सूरत में टैक्सी को बेचते हुए गिरफ्तार किया गया था। उसे कोर्ट में पेश कर 6 दिन के रिमांड पर लिया गया है। रिमांड के दौरान उसने बताया था कि हत्या में प्रयोग की गई पिस्तौल उसकी लाईसैंसी है। पुलिस उसके लाइसैंस को तलाशते हुए बताये गए स्थान पर पहुंची तो लाईसैंस नहीं मिला। दोबारा उससे पूछताछ की गई तो बताया कि पिस्तौल अवैध है। रिमांड के दौरान पुलिस आरोपी से गहनता से पूछताछ कर रही है।

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close
Close