Politics

मुख्यमंत्री भड़काऊ भाषण देने वाले आम आदमी पार्टी विधायक को बचा रहे हैं – मनोज तिवारी

नई दिल्ली, 16 दिसंबर। प्रदेश भाजपा कार्यालय में आयोजित एक प्रेस वार्ता में प्रदेश भाजपा अध्यक्ष श्री मनोज तिवारी ने नागरिकता अधिनियम के विरोध में कल हुए हिंसक विरोध प्रदर्शन की कड़ी निंदा करते हुए कहा कि आम आदमी पार्टी और कांग्रेस दिल्ली का माहौल बिगाड़ने की कोशिश कर रही है। प्रेसवार्ता में दो वीडियो दिखाई गई। पहली वीडियो में दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया द्वारा दिल्ली पुलिस और भाजपा पर हिंसा भड़काने का आरोप लगाते हुए ट्वीट किया गया गलत फोटो और वीडियो दिखाया गया है। जबकि मनीष सिसोदिया ने जिस बस को जलाने की बात कह रहे है उसे एक टीवी चैनल द्वारा सही सलामत दिखाया है और पुलिसवाले उस बस की एक सीट में लगी आग को बुझाते दिखाया गया। दूसरी वीडियो में दिखाया गया आम आदमी पार्टी के विधायक अमानतुल्लाह खान ने विवादित बयान देकर लोगों को दंगा करने के लिये उकसाया जिसके बाद ओखला में हिंसा भड़की। इस प्रेस वार्ता में प्रदेश महामंत्री श्री राजेश भाटिया, प्रदेश मीडिया सह-प्रभारी श्री नीलकांत बक्शी एवं मीडिया प्रमुख श्री अशोक गोयल देवराहा उपस्थित थे।

भावुक मन से पत्रकारों को सम्बोधित करते हुये दिल्ली भाजपा अध्यक्ष श्री मनोज तिवारी ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने देश में नागरिकता अधिनियम के विरोध में छात्रों द्वारा हो रही हिंसक प्रदर्शन को लेकर चिंता जाहिर की है और ऐसे समय में अफवाह और गलत बयानबाजी से दूर रहने व शांति बनाए रखने की अपील की है। प्रधानमंत्री जी ने भरोसा दिलाया है कि नागरिकता अधिनियम से किसी भी धर्म के लोगों का कोई नुकसान नहीं होगा। श्री तिवारी ने कहा कि दिल्ली पुलिस आयुक्त से आज भाजपा का एक प्रतिनिधिमंडल मिला और दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की। प्रतिनिधिमंडल की ओर से एक ज्ञापन सौंपा गया जिसमें कहा गया कि आम आदमी पार्टी द्वारा पुलिस और भारतीय जनता पार्टी पर लगाए गए आरोपों को गलत बताते हुए तथ्यों के साथ दिखाया गया है इसकी विस्तृत जांच की मांग की गई।

श्री तिवारी से कहा कि जिस तरह से दिल्ली में जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी के हजारों छात्र हिसंक विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं ये दृश्य काफी भयावह है, लेकिन दिल्ली सरकार शांति की अपील करने की बजाय हिंसा को और भड़काने का काम कर रही है। कई मीडियाकर्मी इस हिसंक विरोध प्रदर्शन में घायल हो गए और आज की ही घटना है कि हिंसा के दौरान हुए हमले से एएनआई समाचार एजेंसी के कैमरामैन की हालत गंभीर बनी हुई है। आम आदमी पार्टी के विधायक भड़काऊ भाषण दे कर हिंसा को और उग्र करने का काम कर रहे हैं और मुख्यमंत्री केजरीवाल उन्हें बचा रहे हैं। कांग्रेस के भी नेता छात्रों के हिंसक प्रदर्शन का समर्थन कर रहे हैं।

छात्रों से शांति बनाए रखने की अपील करते हुए श्री तिवारी ने कहा कि आम आदमी पार्टी और कांग्रेस अपने राजनीतिक स्वार्थ के लिए छात्रों को मोहरा बना रही है और हिंसक गतिविधियों को बढ़ाने का काम कर रही है। दोनों ही पार्टियां घुसपैठियों के साथ है इसलिए उनकी बातों में ना आएं। केजरीवाल जवाब दें कि क्या बसों में बैठे लोगों को जिंदा जलाने की कोशिश की गई? क्या आम आदमी पार्टी और कांग्रेस दिल्ली में गोधरा जैसे कांड को अंजाम देने की साजिश कर रही है? क्यों केजरीवाल सरकार के मंत्री गलत वीडियो जारी कर लोगों को गुमराह कर रहे हैं? ये सिर्फ राजनीतिक मामला नहीं है बल्कि जो लोग यह नारा लगा रहे थे कि ‘हिन्दुओं की क्रब खुदेगी, ए.एम.यू. की धरती पर’ आम आदमी पार्टी और कांग्रेस ऐसे लोगों का समर्थन कर रही है। दिल्ली के लोगों ने भी देखा कि कैसे केजरीवाल सरकार और कांग्रेस ऐसे संवेदनशील माहौल में राजनीतिक रोटियां सेंकने में लगी है और आग में घी डालने जैसा काम कर रही है।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close
Close