Politics

नागरिकता संशोधन कानून शरणार्थियों को नागरिकता देने के लिए है किसी भी भारतीय की नागरिकता छीनने के लिए नहीं है – मनोज तिवारी

नई दिल्ली, 13 जनवरी। भारतीय जनता पार्टी दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष श्री मनोज तिवारी ने कहा कि दिल्ली के शाहीन बाग इलाके में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ प्रदर्शन किया जा रहा है जिससे कि दिल्ली से नोएडा और नोएडा से दिल्ली आने जाने वालों का रास्ता बंद हो गया हैं। देश में सभी लोगों को अपनी बात रखने और शांति पूर्ण प्रदर्शन करने का अधिकार है लेकिन प्रदर्शन के नाम पर आम जनता को परेशान करना उचित नहीं है। शांति सदभावना और आपसी भाईचारे को समाप्त करने का प्रयास विपक्षी दलों द्वारा कई दिनों से किया जा रहा है जिसमें आम जनता को भड़काया व उकसाया जा रहा है कि वो सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करें।

श्री तिवारी ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने दिल्ली के ऐतिहासिक रामलीला मैदान से देश की जनता को सम्बोधित करते हुये कहा था कि नागरिकता संशोधन कानून पाकिस्तान अफगानिस्तान व बांग्लादेश से धर्म के आधार पर प्रताड़ित लोगों को नागरिकता देने के लिए है किसी भी भारतीय की नागरिकता छीनने के लिए नहीं हैं। जो लोग 31 दिंसबर 2014 के पहले से भारत में शरर्णार्थी बनकर रह रहे है उन्हें भारत सरकार नागरिकता दे रही है। कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के नेताओं को सार्वजनिक मंच से लोगों को नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ भड़काते व उकसाते देखा जा सकता है। शाहीन बाग में भी कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के नेता छात्रों को भड़काने व उन्हें सही रास्ते से भटकाने में लगे है जो कि देश की एकता व अखण्डता पर प्रहार करने जैसा है।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close
Close